मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री कौशल कमाई योजना 2023: ऑनलाइन आवेदन

मुख्यमंत्री कौशल कमाई योजना
Support us By Sharing

मध्यप्रदेश सरकार द्वारा प्रदेश के युवाओं के लिए एक अत्यंत लाभकारी योजना का अनुमोदन किया गया है, इस योजना का नाम मुख्यमंत्री कौशल कमाई योजना है जिसके अंतर्गत प्रदेश के युवाओं को स्किल डेवलपमेंट के लिए प्रेरित किया जायेगा और जिन विद्यार्थियों की कक्षा 12 के बाद पढ़ाई एवं ग्रेजुएशन के बाद परमानेंट जॉब नहीं है उन्हे MP Kaushal Kamai Yojana के तहत आर्थिक लाभ पहुंचाया जायेगा। मुख्यमंत्री कौशल कमाई योजना ऑनलाइन आवेदन, पात्रता एवं लाभ जानने के लिए इस आर्टिकल को अंत तक पढ़ें।  

मध्यप्रदेश मुख्यमंत्री कौशल कमाई योजना 2023

मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने भोपाल में युवा नीति को लॉन्च करते हुए युवाओं के लिए मुख्यमंत्री कौशल कमाई योजना की शुरुआत की है जिसके तहत जिन विद्यार्थियों ने कक्षा 12 के बाद पढ़ाई छोड़ दी है अथवा ग्रेजुएशक के बाद कोई परमानेंट जॉब नहीं है तो उन्हें इस योजना के तहत उन्हे विभिन्न सेक्टर में ट्रेनिंग प्रदान की जायेगी और ट्रेनिंग के दौरान युवाओं को प्रतिमाह 8 हजार रूपए का स्टाइपेंड भी प्रदान किया जायेगा। जिससे उन्हें ट्रेनिंग और आर्थिक सहायता दोनो प्राप्त हो सकेगा। CM Kaushal Kamai Yojana के तहत हर साल लगभग प्रदेश के 1 लाख युवाओं को सम्मालोत किया जायेगा।

मुख्यमंत्री जी ने घोषणा की है कि मुख्यमंत्री कौशल कमाई योजना के ऑनलाइन आवेदन युवा पोर्टल पर 1 जून 2023 से प्रारंभ कर दिए जाएंगे और जल्द से जल्द उन्हे स्किल ट्रेनिंग के लिए विभिन्न। सेक्टरों में प्रवेश भी प्रदान कर दिया जायेगा। 

मुख्यमंत्री कौशल कमाई योजना के उद्देश्य

  • प्रदेश के युवाओं को प्रोत्साहन प्रदान करना।
  • सभी विद्यार्थियों को कौशल ट्रेनिंग प्रदान करना। 
  • प्रदेश के लगभग 1 लाख युवाओं को इस योजना के अंतर्गत शामिल किया जायेगा। 
  • कौशल ट्रेनिंग के दौरान उन्हें ₹8000 प्रति माह का स्टाइपेंड प्रदान करना।
  • राष्ट्रनिर्माण के प्रति युवाओं को समर्पित करना है।
  • शिक्षा एवं कौशल अर्जित कर रोजगार के योग्य बनाना।

मुख्यमंत्री कौशल कमाई योजना के लाभ

MP Kaushal Kamai Yojana के तहत प्रदेश के वे युवा आवेदन फॉर्म भर सकते है जिनके पास कोई परमानेंट जॉब नहीं है, इससे उन्हे स्किल शिक्षा भी प्रदान हो जायेगी और उन्हे प्रति माह का स्टाइपेंड भी प्रदान हो जायेगा। कौशल कमाई योजना में युवाओं को 8000 रुपए प्रतिमाह प्रदान किया जायेगा तथा उन्हें विभिन्न सेक्टरों में ट्रेनिंग प्रदान करने के लिए प्रेरित किया जायेगा। 

एमपी युवा पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करने के लिए यहां क्लिक करें

Key Highlights

योजना का नाममुख्यमंत्री कौशल कमाई योजना 
राज्यमध्यप्रदेश
शुरू किया गयाशिवराज सिंह
रजिस्ट्रेशन तिथि01 जून 2023
लाभार्थीप्रदेश के युवा
स्टाइपेंड लाभ₹8000/माह
कैटेगरीMP Government Schemes 
आवेदन प्रक्रियाऑनलाइन
आधिकारिक वेबसाइट MP Kaushal Kamai Yojana

मुख्यमंत्री लाडली बहना योजना ऑनलाइन आवेदन

मुख्यमंत्री कौशल कमाई योजना की पात्रता

  • विद्यार्थी प्रदेश का मूल निवासी होना चाहिए।
  • आवेदनकर्ता कम से कम कक्षा 12 उत्तीर्ण होना चाहिए।
  • लाभार्थी के पास कोई परमानेंट जॉब नहीं होनी चाहिए।
  • विद्यार्थी किसी भी बोर्ड जैसे MP Board अथवा CBSE Board में से हो, उसे इस योजना में शामिल किया जायेगा। 
  • लगभग 1 लाख युवाओं को Kaushal Kamai Yojana के तहत शामिल किया जाएगा। 

मुख्यमंत्री कौशल कमाई योजना के लिए दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • निवास प्रमाण पत्र
  • कक्षा 12 का पासिंग सर्टिफिकेट
  • बैंक अकाउंट
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • ग्रेजुएशन सर्टिफिकेट (यदि हो तो)
  • स्वयं घोषणा पत्र

नोट:- उपर्युक्त दिए गए दस्तावेजों में से कुछ दस्तावेज जरूरी नहीं है, अर्थात जरूरी दस्तावेज ही आवेदन करते समय प्रयोग करे। 

Mukhyamantri Kaushal Kamai Yojana Apply Online

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह जी ने बताया है कि कौशल कमाई योजना में ऑनलाइन आवेदन 1 जून 2023 से शुरू कर दिए जाएंगे। इस योजना में आवेदन युवा पोर्टल के माध्यम से केवल ऑनलाइन ही किए जायेंगे। रजिस्ट्रेशन करने के लिए निम्न तथ्यों का पालन करना होगा:

  • सबसे पहले आपको युवा पोर्टल की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा। 
  • होमपेज पर आपको Candidate Registration का विकल्प दिखाई देगा, आपको उस पर क्लिक करना होगा।
  • उसके बाद आपको अपना मोबाइल, नंबर एवं ईमेल आईडी को भरकर रजिस्ट्रेशन करना होगा।
  • अब आपको अपनी सारी व्यक्तिगत जानकारी को भरना होगा।
  • अंत में आपको सभी जरूरी दस्तावेजों को अपलोड करना होगा और आवेदन पत्र को प्रिंट करना होगा।

मुख्यमंत्री कौशल कमाई योजना क्या है?

इस योजना के तहत जिन विद्यार्थियों ने कक्षा 12 के बाद पढ़ाई छोड़ दी है अथवा ग्रेजुएशक के बाद कोई परमानेंट जॉब नहीं है तो उन्हें इस योजना के तहत उन्हे विभिन्न सेक्टर में ट्रेनिंग प्रदान की जायेगी और ट्रेनिंग के दौरान युवाओं को प्रतिमाह 8 हजार रूपए का स्टाइपेंड भी प्रदान किया जायेगा।


Support us By Sharing

Leave a Reply